Audio/Video Gallery

#highlights ............#mahadev .........#shortvideo

har har mahadev

har har shabhu

radhe radhe

mahadev

har har mahadev

har har mahadev

mahadev

har har mahadev

har har mahadev

har har mahadev

काशी के बाबा विश्वनाथ मीरजापुर में बन जाते हैं बाबा बूढ़ेनाथ

उत्तर प्रदेश के मीरजापुर जनपद (पुरातन नाम गिरिजापुर) के मध्य में स्थित अति प्राचीन श्री बूढ़ेनाथ महादेव मन्दिर जो कि द्वादश शिवलिंगों में अति विशिष्ठ काशी के बाबा विश्वनाथ महादेव की शयन स्थली उस कालखंड से है जब कैलाशवासी महादेव भोलेनाथ सांसारिक लोगों की समस्याओं को सुलझाने वास्ते कैलाश पर्वत से काशी आये। बहुत सुन्दर कथा है इस रहस्य के पीछे: माता पार्वती भी भोलेनाथ के साथ काशी प्रवास की हठ कर बैठीं। बहुत समझाने पर भी जब माता न मानीं तो भोलेनाथ ने उनके आवास के लिये गिरिजापुर नगर का निर्माण करवाया जो कालांतर में अपभ्रंश होते -होते मीरजापुर फिर मुग़लकाल से मिर्ज़ापुर हो गया। भोलेनाथ दिन में तो काशी में विश्वनाथ महादेव के स्वरूप में विराजकर भक्तों के सुख-दुख सुनते हुये उनको अपना आशीर्वाद देते व मार्गदर्शन करते हैं और सायंकाल भोलेनाथ मीरजापुर स्थित बूढ़ेनाथ महादेव मन्दिर में विश्राम करने आ जाते हैं। इसी कारण काशी विश्वनाथ मन्दिर में शयन नहीं कराया जाता।